Thursday, 9 June 2016

जगजीत सिंह-नाम ही काफ़ी है


हम लबों से कह ना पाए उनसे हाल -ऐ -दिल कभी

और वो समझे नहीं ये ख़ामोशी क्या चीज़ है |



गीतकार - निदा फाज़ली

गायक -   जगजीत सिंह

संगीतकार - जतिन -ललित



सुनिये , समझिये फिर सुनिये और बस सुनते जाइये क्यूंकि इस से बेहतर कुछ नहीं हो सकता