Sunday, 5 June 2016

स्मोकिंग किल्स

बात सिर्फ सिग्रेट की नहीं है बात सिर्फ शराब की भी नहीं है , नशा कोई भी हो इंसान को लाचार और कमज़ोर ही बनाता है , बाकी आप समझदार हैं और मुल्क आज़ाद है जो चाहें सो करें |









नशे के लत मे तेरे संग तेरा घर भी जलता है

तेरे अपनों के सपनो का महल भी ढहता है
ये ऐसी आदत है जिसने बर्बाद ही सब को किया


अब वक़्त है सम्भलने का बदलने का तेरा 
      
       --- गाना है First India News की टीम का 
              लिखा गया है  मुक्ता भावसार व अन्य द्वारा (अन्य ब्लॉग मालिक के मित्र नहीं है )